How to Control High BP in Hindi

उच्च रक्तचाप या हाई बीपी अनियंत्रित जीवनशैली का एक घातक परिणाम है। इसे हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर high blood pressure के नाम से भी जाना जाता है। यह एक चिकित्सीय स्थिति है, जिसमें धमनियों में रक्त दबाव सामान्य से तेज हो जाता है।
सामान्य स्थित में रक्त प्रवाह 120/80 से 140/90 के बीच रहता है, लेकिन जैसे ही ब्लड प्रेशर इससे अधिक होने लगता है, उच्च रक्तचाप high bp की समस्या खड़ी हो जाती है। यह गंभीर इसलिए है, क्योंकि इसके कारण गुर्दे, धमनियों और हृदय पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
अनियंत्रित उच्च रक्तचाप high bp मस्तिष्क की रक्त वाहिकाओं को कमजोर कर स्ट्रोक का कारण बन सकता है। इसलिए, हाई बीपी के लक्षण और हाई ब्लड प्रेशर high blood pressure का उपचार संबंधी जानकारी आपको होनी चाहिए।

उच्च रक्तचाप के कारण – Causes of High BP in Hindi

धूम्रपान
मोटापा
शारीरिक गतिविधियों में कमी
भोजन में अत्यधिक नमक
बढ़ती उम्र
अनुवांशिकता
शराब
तनाव और थायराइड

गुर्दे से जुड़ा पुराना रोग
एड्रिनल संबंधी परेशानी (गुर्दे के ऊपर स्थित ग्रंथियां)
स्लीप एप्निया (गंभीर नींद विकार)

हाई बीपी High BP को कंट्रोल करने के ये हैं घरेलू उपाय..

आंवला

आंवले के सेवन से न केवल हाई ब्लड प्रेशर High Blood pressure में राहत मिलती है बल्कि कई अन्य बीमारियों भी दूर होती हैं। आप साबूत आंवला खा सकते हैं या फिर आंवले के पाउडर का सेवन कर सकते हैं। इससे आपको बीपी की समस्या में फौरन राहत मिलेगी। आप आवंले को शहद में मिलाकर खा सकते हैं इससे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन नियंत्रित रहता है।

लहसुन 

लहसुन का सेवन करने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। इसके अतिरिक्त लहसुन का सेवन करने से , इम्युनिटी बढ़ती है, बालों की देखभाल व स्किन को भी फायदा मिलता है। लेकिन लहसुन को पका कर नहीं खाना चाहिए क्योंकि पकाने से लहसुन के कुछ पोषक तत्व खत्म हो जाते है,इसलिए लहसुन को बिना पकाए ही पानी के साथ खाना चाहिए। 

प्याज 

प्याज के फायदे तो आपने जरूर सुने होंगे , लेकिन क्या आप जानते हैं कि प्याज का सेवन करने से ब्लड प्रेशर कम हो जाता है। प्याज में क्वेरसेटिन नामक फ्लेवोनॉयड्स तत्व भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जिससे रक्त वाहिकाएं पतली हो जाती है। यही कारण है कि प्याज का सेवन कर ब्लड प्रेशर कम हो जाता है। 


काली मिर्च 

अगर आपका बीपी BP अचानक बढ़ जाए तो उस समय आप आधे गिलास पानी में काली मिर्च पाउडर डालकर पी लें। इससेे आपका बीपी फौरन नियंत्रित हो जाएगा। काली मिर्च सिर्फ ब्लड प्रेशर BP में ही फायदेमंद नहीं होती बल्कि कई अन्य बीमारियों को भी दूर करती है। काली मिर्च से पाचन संबंधी समस्याएं भी नहीं होती हैं। यही नहीं अगर आपके शरीर में कहीं सूजन आ जाए तो आप काली मिर्च को पीसकर लगाएं इससे आपकी सूजन दूर हो जाएगी। दांत दर्द में भी काली मिर्च फायदेमंद होती है। 

High BP में इन चीजों से करें परहेज

High BP के इस प्रयोग के साथ में एक चीज जो आपको करनी है वो ये कि आपको चाय को बिलकुल बंद करना होगा। इसकी जगह आप अपने पूरे परिवार को सुबह उठ कर निम्बू पानी पिलायें इसमें 2 चुटकी मीठा सोडा मिला कर।

आप देखेंगे कि आपकी ऐसी समस्याएँ जो लाख दवा खाकर भी नहीं जा रही थी, वो अपने आप सही हो गयी। क्यूंकि इससे आपका पूरा शरीर एल्कलाइन हो जायेगा और आपका PH लेवल बिलकुल सही हो जायेगा।


Heart Attack आने पर तुरन्त ये करें..

ध्यान रहे के जब भी किसी को हार्ट अटैक आये या बेहोश सा हो जाए तो तुरंत में उसका CPR करें, इसके लिए रोगी को सीधे लिटा दें और उसके छाती के बीच में हलके बायीं तरफ हार्ट पर जोर जोर से अपनी हथेली से दबाव दें, इसको एक मिनट में कम से कम 70 से 80 बार करें.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!