Beauty Tips

मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान Multani mitti benefits and side effects in hindi

Pro Ayurved
Written by Pro Ayurved

मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान Multani mitti benefits and side effects in hindi :
घर पर ही पार्लर जैसा clean up और निखार पाना है तो, मुल्तानी मिट्टी इसके लिए सबसे बेस्ट option है. मुल्तानी मिट्टी एक ऐसा नेचुरल पदार्थ है जो स्किन और hair दोनों को स्वस्थ और सुंदर बनाये रखने में मदद करता है. मुल्तानी मिट्टी प्रकृति का अनमोल वरदान है जो स्किन और hair related किसी भी problem दूर करने में मदद करता है. मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग प्राचीन कालो से चला आ रहा है, और आज भी इसका बहुत मांग है. चूँकि यह natural और आयुर्वेदिक है तो इसके साइड effects बहुत कम है. तो चलिए देखते है कि मुल्तानी मिट्टी के फायदे कौन कौन सा है और साइड इफ़ेक्ट क्या हो सकता है.

मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान Multani mitti benefits and side effects in hindi

चूँकि मुल्तानी मिट्टी का उपयोग चेहरे पर और बालों पर किया जाता है तो इसके फायदे सिर्फ skin और hair पर ही दिखने को मिलेगा. मुल्तानी मिट्टी का oily skin, dry skin, डेंड्रफ, स्कैल्प इन पर फायेदा पहुचाती है.
तो चलिए विस्तार से जानते है.

(A). मुल्तानी मिट्टी के फायदे face and skin पर (Fuller’s earth or multani mitti’s benefits in hindi) :

multani mitti for face daily

1. नैचरली क्लीनसर : आजकल की प्रदूषण भरी वातावरण में धूल धुँआ से चेहरे में कई प्रकार के इंफेक्शन और प्रोब्लेम्स आ रही है मुल्तानी मिट्टी से चेहरे धोने से कई प्रकार की skin problem दूर हो जाती है. मुल्तानी मिट्टी से चेहरे धोने पर एक अनोखा अहसास होता है.

2.तेलीय त्वचा (Oily skin) : चेहरे से तेल निकलना मतलब चेहरे का ऑयली हो जाना एक आम समस्या है. दरअसल यह समस्या नहीं, बल्कि चेहरे में नमी बनाए रखने के लिए Sebaceous gland (oil gland) आयल और sebum release करती है. यह ज्यादा निकलने लग जाए तो चेहरे की त्वचा है ऑयली हो जाती है.
मुल्तानी मिट्टी का पेस्ट लगाने से oil निकलने वाली छिद्र बंद हो जाता है जिससे oil release कम हो जाता है और चेहरा चमकने लगती है.

3. रूखी त्वचा (Dry skin) : ठंडी के दिनों में चेहरे के साथ साथ हाथ पैर की त्वचा में भी रूखापन आ जाता है, इसका कारण है ठंड़ीयो में शरीर से पसीना निकलना बंद हो जाता है. Skin में moisture लाने के लिए मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग करें.
मुल्तानी मिट्टी का पानी के साथ mix कर पेस्ट तैयार करे और स्किन पर लगाये. (Note : ज्यादा देर तक लगाए रखने से स्किन में सूखापन भी आ सकता है क्योंकि यह बेहतरीन एब्सॉरबेन्ट है जो स्किन के नमी को सोख लेती है)

4. मुहाँसे और ब्लैकहेड्स (Acne and blackheads): pollution और skin की देखभाल अच्छी तरह से न करने के कारण चेहरे पर मुँहासे निकलने लगते हैं, मुल्तानी मिट्टी में कैल्शियम क्लोराइड पाई जाती है जो चेहरे में चमक लाती है, चेहरे में मुल्तानी मिट्टी के लेप लगाने से मुहांसों में कमी आती है और धीरे धीरे खत्म हो जाती है. ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स के भी काफी हद तक छुटकारा मिलता है.

multani mitti benefits

5. टेक्सचर : चेहरे में हर रोज़ cells dead होते है और नई cell बनता है. Dead cell के जमे रहने से चेहरे का texture या गोरापन छुपने लगता है. मुल्तानी मिट्टी उन डेड सेल्स को साफ कर चेहरा वापस गोरा करता है.

  • चेहरे से झुर्रिया (Wrinkles) हटाने के घरेलू उपाय
  • चेहरे से झाइयां (Frekles) हटाने के घरेलू उपाय
  • बालों को स्वस्थ रखने और देखभाल के घरेलू नुस्खे (hair care tips in Hindi)

    (B). मुल्तानी मिट्टी के फायदे बालों के लिये : (Fuller’s earth or multani mitti’s benefits in hindi) :

    Multani for hair in hindi

    फुलर अर्थ मतलब मुल्तानी मिट्टी के फायदे जिस तरह चेहरे और अन्य स्कीन के लिए है उसी तरह बालो पर भी इसका एक खास effect है. बालो के problems जैसे डेंड्रफ, उलझे बाल, स्कैल्प पर भी इसका खासा असर होता है.

    1. रूखे बाल : आजकल के प्रदूषण भरी वातावरण और गलत खानपान के कारण बालों में तरह तरह की समस्याएं आम हो गयी है जिसमे से एक है बालो का रूखापन. अच्छी nutrients न मिल पाने के कारण बालो में रूखापन आ जाता है. Multani mitti hair pack बालो के रूखेपन को दूर करती है.

    2. बाल झड़ना : मुल्तानी मिट्टी में अगर निम्बू का रस मिलाकर पेस्ट बना कर बालो में लगाया जाये तो झडते, टूटते, व गिरते बालो को भी रोकती है इसका कारण है इसमें मौजूद mineral.

    3. तेलीय बाल : कुछ लोगो के बाल एकदम से चिपचिपे हो जाया रहता है. यह मिट्टी उन बालों के तेल को remove करके, चमकदार बनाता है.

    4. डेंड्रफ : डैंड्रफ बालो की एक आम समस्या है, बहुत से लोग इस समस्या से परेशान है. डेंड्रफ झड़ते बालों का कारण बन जाता है. मुल्तानी मिट्टी लगाने से डैन्ड्रफ से भी छुटकारा मिलता है.

    5. Toxin : प्रदूषण, केमिकल युक्त cosmetics product के कारण बालो में कई toxic पदार्थ जमा हो जाता है जो बाद में बालों ने तरह तरह की समस्याएं खड़ी करती है. मुल्तानी मिट्टी इन toxic पदार्थों को हटाने में मदद करती है.

    6. गंदी smell : डेंड्रफ, स्कैल्प या कुछ अन्य कारणो से बालों में से बदबू आने लगती है. इससे भी छुटकारा पाने में फुलर मिट्टी कारगर है.

    मुल्तानी मिट्टी के नुकसान (side effects of multani mitti in hindi) :

    वैसे तो यह 100% नैचुरली है तो इसके साइड इफेक्ट बहुत कम है, कुछ साइड इफेक्ट नीचे दिए हैं :
    1. मुल्तानी मिट्टी ज्यादा देर तक लगाए रखने से स्किन में सूखापन भी आ सकता है क्योंकि यह बेहतरीन एब्सॉरबेन्ट है जो स्किन के नमी को सोख लेती है.
    2. मुल्तानी मिट्टी निगल जाने से किडनी में पथरी होने के chances बढ़ जाती है.
    3. बालो अत्यधिक देर तक मुल्तानी मिट्टी के लेप लगाये रखने से सिर के ठंडा होने की समस्या खड़ी हो सकती है.

    तो पाठको ऊपर आपने पढ़ा मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान Multani mitti benefits and side effects in hindi आशा है आपको अच्छी लगी होगी.
    आगे आने वाली लेख के updates पाने के लिए ईमेल पर सब्सक्राइब कर ले या हमारा फेसबुक पेज लाइक कर ले ताकि नोटिफिकेशन आप तक पहुच जाए. साथ ही पोस्ट को फेसबुक व्हाट्सएप्प में शेयर करना ना भूले. धन्यवाद.

    About the author

    Pro Ayurved

    Pro Ayurved